जहांगीरपुरी में सेवा का वटवृक्ष

Share this

स्रोत: Seva-Hindi      तारीख: 02 Mar 2013 12:27:37

सेवा भारती जहांगीर पुरी, दिल्लीदिल्ली में आज शायद ही ऐसी कोई बस्ती होगी जहाँ सेवा भारती का कार्य न हो। सेवा भारती के इन केन्द्रों ने कई लोगों के जीवन को सही दिशा दी है। इस कारण समाज में शिक्षा का प्रसार उत्तम तरीके से हुआ है। शिक्षा के कारण समाज में स्वस्थ्य विषयक जागृति भी आई है। सेवाकार्य का यह पौधा अब वटवृक्ष बन गया है।

दिल्ली में सेवा भारती का पहला केन्द्र 1979 में स्थापित हुआ। ध्येय से प्रेरित अनेक कार्यकर्ताओं ने स्वयं को इस कार्य के लिए समर्पित कर दिया। उनके द्वारा बोया गया सेवा का बीज आज वटवृक्ष बन गया है। इसकी 9 शाखाएं यहां की सभी बस्तियों में कार्यरत है तथा इनका कार्य उन बस्तियों के प्रत्येक घर तक पहुंच चुका है।

जहांगीरपुरी में सेवा भारती द्वारा बालवाड़ी, बालसंस्कार, सिलाई केन्द्र तथा आरोग्य जांच केन्द्र चलाये जाते हैं। साथ ही यहां पहली से आठवीं कक्षा तक बालकों के लिए शिक्षा की व्यवस्था है। इसके अलावा कक्षा 6वीं से 10वीं  तक के विद्यार्थियों के लिये शाम 7 से 9 बजे तक अभ्यास वर्ग चलाये जाते हैं।

सेवा भारती जहांगीरपुरी दिल्ली के जिला मंत्री बताते हैं कि प्रथम सत्र में नर्सरी से पांचवीं, दूसरे सत्र में नर्सरी से आठवीं तथा तीसरे सत्र में सातवीं से नौवीं के विद्यार्थियों के लिए अध्ययन वर्ग चलाये जाते हैं। इस केन्द्र से जुड़ने वाले अनेक लोग सेवा को ही अपने जीवन का ध्येय मानकर निष्ठा से कार्य करते हैं, ऐसे कई उदाहरण है।

25 वर्षों से ओम प्रकाश पाठक सेवा को एक व्रत मानकर कार्य कर रहे हैं। वे सेवा केन्द्र के लिए निधि संकलन करते हैं। साथ ही नये लोगों को इस कार्य से जोड़ने के लिए तत्पर रहते हैं। कार्यकर्ताओं की ओर ध्यान देने का काम भी वे पूरी निष्ठा से करते हैं। दान देने वालों को नियमित रूप से वे प्रति माह मिलते हैं। निधि संकलन का कार्य तो उनका नियम ही बन गया है।

केन्द्र की प्रभारी श्रीमती कृष्णा भारद्वाज 19 वर्षों से यहां सुबह नौ से दोपहर साढ़े चार बजे तक सेवा देती हैं। वे बताती हैं कि हमने यहां एक भजन मंडली स्थापित की है, यहां सभी महिलाएं मिलकर भजन करती हैं। इस माध्यम से सबके साथ संवाद स्थापित होता है, इससे उन तक अच्छे संस्कार पहुंचाना आसन होता है। इसके साथ हर माह केन्द्र में होम-हवन भी किया जाता है।

गत 21 वर्षों से बालवाडी में पढ़ानेवाली श्रीमती पुष्पा शर्मा बताती हैं कि यह सेवाकार्य मेरे जीवन का एक हिस्सा बन गया है। छुट्टी के दिन ऐसा लगता है कि जैसे आज बहुत कुछ छूट गया !

सेवा केन्द्र में बच्चों को शिक्षा के साथ मूल्य प्रशिक्षण भी दिया जाता है। हर माह दो-तीन बार बच्चों की सभा ली जाती है, जिसमें बच्चों द्वारा श्‍लोक, मंत्र, गीत आदि प्रस्तुत किये जाते हैं। सब बच्चों के साथ मिलकर त्यौहार मनाए जाते हैं। कन्या पूजा के समय महाप्रसाद का वितरण किया जाता है।

शिक्षा, संस्कार, व्यवसाय प्रशिक्षण के साथ ही लड़कियों के विवाह की जिम्मेदारी को कार्यकर्ता अपना कर्तव्य मानते हैं। इसके लिए वे आनंद के साथ धन आदि का सहयोग करते हैं। साथ ही केंद्र द्वारा बस्ती के लोगों के स्वस्थ्य का भी ध्यान रखा जाता हैं। इसके लिये आरोग्य शिविर लिये जाते हैं। जहांगीरपुरी सेवा केन्द्र की एक गाड़ी विविध स्थानों पर घूमकर स्वस्थ्य सेवा देती है। छूत की बिमारी फैलने पर पांच डॉक्टरों की टीम विविध केन्द्रों पर जाकर रोगियों को सेवा देती है।
लोगों को शिक्षित करने के साथ ही उन्हें शारीरिक एवं मानसिक रूप से निरोगी बनाना, यह लक्ष्य सेवा भारती के कार्यकर्ताओं ने निश्‍चित किया है।

संपर्क
सेवा भारती
म. सं. - १४९१, ई. ब्लॉक,
जहांगीरपुरी, दिल्ली
दूरभाष : (011) 23345014, 23742336
फैक्स : (011) 23345918